Header Ads Widget

Republic Day 2021: आखिर 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस

गणतंत्र दिवस भारत का एक राष्ट्रिय त्यौहार है जिसे प्रत्येक भारतवासी पूरे उत्साह, जोश और सम्मान के साथ मनाते है। राष्ट्रीय पर्व होने के नाते इसे हर धर्म, संप्रदाय और जाति के लोग मनाते हैं, येसा शायद इसलिए है क्योकि इस दिन हमारा देश एक गणतंत्र राष्ट्र बनकर उभरा था ! अब जल्द ही कुछ दिनों के अंदर देश में 26 जनवरी का त्यौहार आने वाला है !


गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) क्यों मनाया जाता है?, और महत्व क्या है?, आखिर 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस ( Republic Day 2021 )
Republic Day ( Gantantra Divas ) Kyu Manate Hai In Hindi



जैसे की आप सभी को पता ही होगा की ,इस वर्ष भारत अपना 72वां गणतंत्र दिवस मना रहा है। 26 January को गणतंत्र दिवस (रिपब्लिक डे) समारोह पर भारत के राष्ट्रपति द्वारा भारतीय राष्ट्र ध्वज को फहराया जाता है और इसके बाद सामूहिक रूप में खड़े होकर राष्ट्रगान गाया जाता है। गणतंत्र दिवस जिसे Republic Day भी कहा जाता है!


येसे बहुत से लोग होंगे जो ये जानते होंगे की गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) क्या है?, लेकिन फिर भी आपके मन में ये सवाल उठता होंगा की गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) क्यों मनाया जाता है?, गणतंत्र दिवस का महत्व क्या है?, आखिर 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस ( Republic Day 2021 )


यदि आपके मन में येसे ही सवाल आ रहे है, और आप इन सवालों का जबाब ढूंढ रहे है तो आप बिल्कुल सही जगह पर आये है, हमने यहाँ इस पोस्ट में मैं आपको यही बताने वाला हूं कि गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) क्यों मनाया जाता है?, गणतंत्र दिवस का महत्व क्या है?, आखिर 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस


26 जनवरी ( Republic Day ) मनाने के पीछे वैसे तो बहुत से कारण है लेकिन हम आपको जो कारण बतायेगे वो आपको जरूर पता होना चाहिए..........



गणतंत्र  दिवस ( 26 जनवरी ) क्या है- What is Republic Day Hindi Me 

गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) भारत का राष्ट्रीय पर्व है, गणतंत्र दिवस  हर साल राष्ट्रीय पर्व के रूप में 26 जनवरी को मनाया जाता है, 26 जनवरी के पर्व को हम लोकतंत्र का सबसे बड़ा पर्व मानते है और चूंकि यह दिन किसी विशेष धर्म, जाति या संप्रदाय से न जुड़कर राष्ट्रीयता से जुड़ा है, इसलिए देश का हर भारतीय इसे राष्ट्रीय पर्व के तौर पर मनाता है। गणतंत्र दिवस को ही Republic Day भी कहा जाता है !



गणतंत्र दिवस का महत्व इन हिंदी 

गणतंत्र दिवस भारत का एक राष्ट्रिय त्यौहार है, प्रत्येक वर्ष 26 जनवरी को भारत का गणतंत्र दिवस मनाया जाता है, सन 1950 में 26 जनवरी को ही भारत सरकार अधिनियम को हटाकर भारत का संविधान लागू किया गया था। आपको बता दें, 308 सदस्यों ने संविधान की दो हस्तलिखित कॉपियों पर हस्ताक्षर किया था। सभी भारतीय नागरिको के द्वारा यह दिवस बिना भेद-भाव के मनाया जाता है गणतंत्र का अर्थ है जनता के द्वारा जनता के लिए शासन इसलिए हम गणतंत्र दिवस ( Republic Day ) को जनता का दिन भी कहा जाता है।



आखिर 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस ( Republic Day 2021 )

26 जनवरी सन 1950 को देश का संविधान लागू किया गया था भले ही 15 अगस्त 1947 को देश को आजादी मिली हो, लेकिन उसके पूर्व 7 से 8 महीने पहले ही देश की आजादी की घोषणा हो गई थी और संविधान लिखने का कार्य शुरू हो गया था। भारत देश के संविधान निर्माता डॉ. भीमराव अंबेडकर (B. R. Ambedkar) ने ठीक दो साल, 11 महीने और 18 दिनों में देश के विस्तृत संविधान को तैयार किया था। 


संविधान सभा के अध्यक्ष डॉ. भीमराव अंबेडकर (B. R. Ambedkar) के नेतृत्व में भारतीय संविधान का प्रारूप 26 नवंबर 1949 को संविधान द्वारा पारित किया गया, संविधान को लागू करने के लिए 26 जनवरी का दिन इसलिए चुना गया क्योंकि 26 जनवरी सन 1950 को हमारे देश को पूर्ण स्वायत्त गणराज्य घोषित किया गया था और इसी दिन हमारा संविधान लागू हुआ था। यही कारण है कि प्रत्येक वर्ष गणतंत्र दिवस 26 जनवरी को मनाया जाता है।



26 जनवरी का इतिहास हिंदी में ( Republic Day History In Hindi )

गणतंत्र दिवस (Republic Day) का इतिहास बहुत ही दिलचस्प है, 1929 में लाहौर में हुए भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के अधिवेशन में पं.जवाहरलाल नेहरू (Pandit Jawaharlal Nehru) ने घोषणा की और कहा अगर अंग्रेज सरकार ने 26 जनवरी 1930 तक भारत को डोमीनियन का दर्जा नहीं दिया तो भारत को पूर्ण रूप से स्‍वतंत्र देश खुद ही घोषित कर दिया जाएगा। 1930 में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस ने पूर्ण स्वतंत्रता की घोषणा की !


जब भारत आज़ाद हुआ तो संविधान सभा की घोषणा हुई और 9 दिसम्बर 1947 से संविधान निर्माण का काम शुरू हो गया जिसके बाद 26 नवंबर, 1949 को संविधान सभा द्वारा ये संविधान अपनाया गया, संविधान को बनाने में लगभग 2 साल 11 महीने और 18 दिन यानि 3 साल लगे. संविधान को टुकड़ो टुकड़ो में पढ़ा गया और टुकड़ो टुकड़ो में जनता को इसके बारे में जानकारी देते गये, फिर 26 जनवरी 1950 की सुबह 10 बजकर 18 मिनिट पर देश भर में संविधान लागू हो गया था ! 


गुन्बद्दार कोर्ट में भारत को एक संप्रभु गणराज्य घोषित किया गया ! संविधान निर्माताओं में डॉ० भीमराव आंबेडकर अध्यक्ष थे तो वही जवाहरलाल नेहरू, डॉ राजेन्द्र प्रसाद, सरदार वल्लभ भाई पटेल, मौलाना अबुल कलाम आजाद सभी इस सभा के प्रमुख सदस्य थे, लगभग 6 मिनिट बाद डॉ राजेन्द्र प्रसाद ने भारत के पहले राष्ट्रपति के रूप में शपथ ली ! तो दोस्तों अब आप जान ही गये होंगे की आखिर 26 जनवरी को ही क्यों मनाया जाता है गणतंत्र दिवस ( Republic Day 2021 )



  1. Valentine Day क्यो मनाया जाता है?
  2. Heart Touching Quotes in Hindi
  3. Motivational Quotes for Success in Hindi-Life Quotes
  4. Mahatma Gandhi अनमोल विचार



अब आपको पता चल गया होगा की 26 जनवरी क्यों मनाई जाती है और 26 जनवरी का क्या महत्त्व हैं। अगर आपको इस पोस्ट से 26 जनवरी क्यों मनाते है और इसी दिन गणतंत्र दिवस क्यों मनाया जाता है के बारे में अच्छी जानकारी मिली हो तो इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर अपने दोस्तों के साथ शेयर जरूर करें !

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ