Header Ads Widget

15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi 2021

15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi-15 अगस्त को भारत में क्या हुआ था-15 अगस्त का क्या महत्व है-स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध-Independence Day Speech In Hindi






15 August Speech in Hindi ( 15 अगस्त निबंध 2021 ) 

15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi-15 अगस्त को भारत में क्या हुआ था-15 अगस्त का क्या महत्व है-स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध-Independence Day Speech In Hindi
15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi



नमस्कार दोस्तो स्वागत है आपका हमारी वेबसाइट में आज हम आपको 15 August ( स्वतंत्रता दिवस ) पर बहुत ही अच्छे कोट्स ( Quotes ), शायरी ( Shayari ), और हिंदी में इमेजेज मिलेंगेshero shayari on independence day in hindi जो आपको बहुत ही पसंद आएंगे तथा हम आपको बताएंगे 15 अगस्त के इतिहास के बारे में। की क्यो 15 अगस्त के दिन ही स्वतंत्रता दिवस मनाया जाता है, और भी बहुत कुछ जाने 15 AugustIndependence Day ) Essay in Hindi 2021 के बारे में। तो चलिए जानते है 15 अगस्त कैसे और क्यो मानते है?



15 August Wishes Shayari, SMS, Quotes, Messages and Status in Hindi 2021

15 अगस्त कैसे मनाया जाता है? ( How is 15th August celebrated? )



भारत में हर साल 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस (Independence Day) मनाया जाता है, हम भारतीयों के लिए ये दिन खास है। ये भारत का राष्टीय त्यौहार है प्रतिवर्ष भारत के प्रधानमंत्री लाल किले की प्राचीर से देश को संबोधित करते है और राष्टीय ध्वज फहराया जाता है। इस दिन को झंडा फहराने के समरोह, परेड और सांस्कृतिक आयोजनों के साथ पुरे देश में मनाया जाता है। भारतीय इस दिन अपनी पोशाक, सामान और घरो में झंडा फहरा कर आजादी का जश्न मनाते हैं। इस दिन को पूरे भारत में राष्ट्रीय और राजपत्रित अवकाश के रूप में घोषित किया गया। भारत के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण दिन है और भारतीय इस दिन को हर साल बड़ी धूमधाम से मिलकर मनाते हैं


इस दिन सभी राष्ट्रीय, राज्यों और स्थानीय सरकार के कार्यालय, बैंक, डाकघर, स्टोर, बाजार, व्ययसाय और संगठन आदि बंद रहते है हालाँकि सार्वजनिक परिवहन (public transport) चालू रहते हैं। यह भारत की राजधानी में बड़े उत्साह के साथ मनाया जाता है साथ ही यह सार्वजनिक समुदाय (public community) और समाज सहित छात्रों और शिक्षकों द्वारा सभी स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षिक संस्थानों (educational institutions) में भी मनाया जाता हैं। भारत में पहला स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त 1947 को मनाया गया था। इसी दिन के मध्यरात्रि में भारत को पंडित जवाहरलाल नेहरू ने स्वतंत्र देश घोषित किया जहाँ उन्होंनेभाग्य के साथ प्रयासभाषण दिया।





भारत का स्वतंत्रता दिवस पूरे देश में भारत के राष्ट्रीय अवकाश के रूप में मनाया जाता है। यह बड़े उत्साह के साथ भारत के सभी राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में हर साल मनाया जाता है। भारत के राष्ट्रपति swatantrata diwas से एक दिन पहले शाम को (राष्ट्र को संबोधित करने के लिए) हर साल एक भाषण देते हैं।


blogger के post में image कैसे add करे for SEO
Krishna Janmashtami Latest Quotes, Wishes Msg in Hindi 2021



स्वतंत्रता दिवस (independence day) 15 august को देश की राजधानी में बड़े जुनून के साथ मनाया जाता है जहाँ भारत के प्रधानमंत्री दिल्ली के लाल किले पर भारतीय ध्वज फहराते है। झंडा उछालने के बाद, राष्ट्रीय गीत गाया जाता है और भारतीय ध्वज, वीर शहीदों और स्वतंत्रता दिवस को सलाम और सम्मानित करने के लिए 20 बंदूक आसमान की तरफ चलाई जाती हैं। खासकर, स्वतंत्रता दिवस उन स्वतंत्रता सेनानियों को याद करने और सम्मानित करने के लिए मनाया जाता है जो लोग भारत की आजादी के लिए लड़ें, जिन्होंने देश को एक स्वतंत्र राष्ट्र बनाने में अपने प्राण त्याग दिए और भारत को स्वतंत्रता दिलायी।

 

15 August को स्वतंत्रता दिवस क्यो मानते है? ( Why 15th August is considered as Independence Day? )

 


भारत में स्वतंत्रता दिवस 15 अगस्त को मनाया जाता हैंस्वतंत्रता दिवस 15 august 1947 में ब्रिटिश शासन से भारत की आजादी की याद में मनाया जाता है। 15 अगस्त को एक नए स्वतंत्र भारत का जन्म हुआ। इस दिन अंग्रेजों ने भारत छोड़ा और देश को नेताओं को सौंपा था इसलिए ये भारत के इतिहास में सबसे महत्वपूर्ण दिन है और भारतीय इस दिन को हर साल बड़ी धूमधाम से मिलकर मनाते हैं।


हम सब 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस के रूप में मनाते हैं, लेकिन क्या आपको पता है कि 1929 में लाहौर अधिवेशन के समय 26 जनवरी को ब्रिटिश औपनिवेशिक शासन से आजादी के दिन के रूप में चुना गया था। फिर 1930 से भारत की आजादी तक भारत इसी दिन स्वतंत्रता दिवस मनाता रहा था। दरअसल, भारत के तत्कालीन वायसराय लॉर्ड लुईस माउंटबेटन को ब्रिटिश संसद ने 30 जून 1948 तक भारत में सत्ता-हस्तांतरण का दायित्व सौंपा था। सी राजगोपालचारी के अमर शब्दों में कहें तो अगर माउंटबेटन ने 30 जून 1948 तक इंतजार किया होता तो उनके पास हस्तांतरित करने के लिए कोई सत्ता नहीं बचती। इसलिए माउंटबेटन ने अगस्त 1947 में ही ये दायित्व पूरा कर दिया।माउंटबेटन की भेजी सूचनाओं के आधार पर ब्रिटिश हाउस ऑफ कॉमंस में इंडियन इंडिपेंडेंस बिल चार जुलाई 1947 को पेश किया गया। भारत को आजादी देने वाला ये विधेयक एक पखवाड़े में ही ब्रिटिश संसद में पारित हो गया। इस विधेयक के अनुसार 15 अगस्त 1947 को भारत में ब्रिटिश राज समाप्त होना तय हुआ।

 

लेकिन क्या आपने कभी सोचा है भारत की आजादी  के लिए 15 अगस्त की तारीख ही क्यों चुनी गई थी? दरहसल, ब्रिटिश संसद ने लॉर्ड माउंटबेटन (Lord Mountbatten) को 30 जून 1948 तक भारत की सत्ता भारतीय लोगों को ट्रांसफर करने का अधिकार दिया था. लॉर्ड माउंटबेटन को साल 1947 में भारत के आखिरी वायसराय के तौर पर नियुक्त किया गया था. माउंटबेटन ने ही भारत की आजादी (India Independence) के लिए 15 अगस्त की तारीख चुनी थी। कुछ इतिहासकारों का मानना है कि सी राजगोपालाचारी (C Rajagopalachari) के सुझाव पर माउंटबेटन ने भारत की आजादी के लिए 15 अगस्त (15 August) की तारीख चुनी. सी राजगोपालाचारी ने लॉर्ड माउंटबेटन को कहा था कि अगर 30 जून 1948 तक इंतजार किया गया तो हस्तांतरित करने के लिए कोई सत्ता नहीं बचेगी. ऐसे में माउंटबेटन ने 15 अगस्त को भारत की स्वतंत्रता के लिए चुना।



इसके बाद ब्रिटिश हाउस ऑफ कॉमंस में इंडियन इंडिपेंडेंस बिल (Indian Independence Bill) 4 जुलाई 1947 को पेश किया गया. इस बिल में भारत के बंटवारे और पाकिस्तान के बनाए जाने का प्रस्ताव रखा गया था. यह बिल 18 जुलाई 1947 को स्वीकारा गया और 14 अगस्त को बंटवारे के बाद 15 अगस्त 1947 को मध्यरात्रि 12 बजे भारत की आजादी (Indian Independence) की घोषणा की गई। कुछ इतिहासकारों का मानना है कि 15 अगस्त (15 August) को आजादी का दिन चुनना माउंटबेटन का निजी फैसला था. माउंटबेटन लोगों को यह दिखाना चाहता था कि सब कुछ उसके ही नियंत्रण में है. माउंटबेटन 15 अगस्त की तारीख को शुभ मानता था इसीलिए उसने भारत की आजादी के लिए ये तारीख चुनी थी. 15 अगस्त का दिन माउंटबेटन के हिसाब से शुभ था क्योंकि द्वितीय विश्व युद्ध के समय 15 अगस्त1945 को जापानी आर्मी ने आत्मसमर्पण किया था और उस समय लॉर्ड माउंटबेटन अलाइड फ़ोर्सेज़ का कमांडर था।


तो दोस्तो ये थी 15 August यानी कि स्वतंत्रता दिवस ( Independence Day ) पर रोचक जानकारी और तथ्य और आशा करता हूँ कि आपको ये जानकारी पसंद आई होंगी ,15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस? 15 August Speech in Hindi, Why 15th August is considered as Independence Day, Essay On 15 August 2021 तो कमेंट बॉक्स में कमेंट करके  जरूर बताएं क्यो की आपका कमेंट मेरे और मेरी टीम के लिए Motivation का काम करता है। तो अब मैं आपके लिए 15 August यानी कि स्वतंत्रता दिवस ( Independence Day ) पर आपके लिए बहुत ही अच्छे और जोश से भरे Quotes in Hindi, Shayari in Hindi और Images in Hindi में इस पोस्ट में आपके लिए दिए हुए हूँ  shero shayari on independence day in hindi जिसे आप अपने दोस्त, रिस्तेदारो और फैमिली के साथ शेयर कर उन्हें बधाई दे सकते है



15 August Quotes in Hindi ( Independence Day Quotes in Hindi 2021 )

  

HAPPY INDEPENDENCE DAY

 

मिटा दिया है वजूद उनका जो भी हमसे भिड़ा है,

देश की रक्षा का संकल्प लिए हर जवान सरहद पर खड़ा है।

 

स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई



हाथ जोड़कर नमन जो करते, मत समझो कमजोर है हम
उठाओ कथाये इतिहास की तो छाये हुए हर ओर है हम।




 

15 August की हार्दिक बधाई



यहाँ आरती है, अज़ान है, हिन्दू है, मुसलमान है

गर्व है मुझे इस देश पर ये मेरा हिन्दुस्तान है।



HAPPY INDEPENDENCE DAY

 

ना तीर से ना तलवार से हम, समझाये पहले प्यार से हम,

जो टकराता फिर भी हमसे, मिटा दे उसको पहले वार से हम।



15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi-15 अगस्त को भारत में क्या हुआ था-15 अगस्त का क्या महत्व है-स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध-Independence Day Speech In Hindi
लेटेस्ट 15 अगस्त शायरी SMS इन हिंदी इमेज 






हैप्पी इंडिपेंडेंस डे

 

जन्म लिया जिस देश मे मैंने, ह्रदय से उसको नमन हो,

ख्वाहिश बस इतनी है मुझको, मरते वक्त तिरंगा मेरा कफन हो।



HAPPY INDEPENDENCE DAY

 

ऐसा देश नही है कोई जिसने ये रीत अपनायी है,

देश को कहते माता लोगो को कहते भाई है।



15 August Shayari in Hindi ( Independence Day Shayari in Hindi 2021 )




HAPPY INDEPENDENCE DAY



गुलाम बने इस देश को आजाद तुमने कराया है

सुरक्षित जीवन देकर तुमने कर्ज अपना चुकाया है

दिल से तुमको नमन हैं करते

ये आजाद वतन जो दिलाया है।



15 AUGUST की हार्दिक बधाई



15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi-15 अगस्त को भारत में क्या हुआ था-15 अगस्त का क्या महत्व है-स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध-Independence Day Speech In Hindi
15 August Quotes In Hindi Image




 

गंगा यमुना यहाँ नर्मदा,

मंदिर मस्जिद के संग गिरजा,

शांति प्रेम की देता शिक्षा,

मेरा भारत सदा सर्वदा..!!

 

स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई

 


लड़ें वो वीर जवानों की तरह,

ठंडा खून फ़ौलाद हुआ,

मरते-मरते भी मार गिराए,

तभी तो देश आज़ाद हुआ।


हैप्पी इंडिपेंडेंस डे

 

 

भूल ना जाना भारत माँ के सपूतो का बलिदान

इस दिन के लिए जो हस कर हुए थे कुर्वान

आजादी की ये खुशिया मनाकर लो ये शपथ

की बनायेगे देश भारत को ओर भी महान



15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi-15 अगस्त को भारत में क्या हुआ था-15 अगस्त का क्या महत्व है-स्वतंत्रता दिवस के महत्व पर निबंध-Independence Day Speech In Hindi
15 अगस्त पर देश भक्ति शायरी SMS हिंदी में





स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई

 

कुछ पन्ने इतिहास के

मेरे मुल्क के सीने में शमशीर हो गए,

जो लड़े, जो मेरे वो शहीद हो गए

जो डरे, जो झुके वो वजीर हो गए।



HAPPY INDEPENDENCE DAY



देश के उन वीर जवानों को सलाम

जो सुरक्षा का एहसास दिलाते है

जो हथेली पर रखकर जान

हमारी हिफाज़त का ज़िम्मा उठाते है।



स्वतंत्रता दिवस की हार्दिक बधाई

 

जब इस्क और क्रांति का अंजाम एक ही है,

तो रांझा बनने से अच्छा है कि भगतसिंह बन जाओ।




आशा करता हूँ कि आपको ये 15 अगस्त को ही क्यों मानते है स्वतंत्रता दिवस?: 15 August Speech in Hindi जानकारी पसंद आई होंगी और 15 August स्वतंत्रता दिवस ( Independence Day ) पर आपको Quotes in Hindi, Shayari in Hindi, और इंडिपेंडेंस डे SMS in Hindi ( shero shayari on independence day in hindi )आपको पसंद आये होंगे। तो उम्मीद करता हूँ कि आप इसे ज्यादा से ज्यादा शेयर करेंगे। और अगर आपका कोई सवाल या सुझाव है तो कमेंट करके जरुर बताये।

एक टिप्पणी भेजें

0टिप्पणियाँ